परोसने

राजस्थान केजालोर के सायला थाना के सुराणा गांव की घटना
रोगी की मृत्यु की स्थिति में सुधार होता है

रायपुर। राजस्थान के जैलोर के सायला थाना में सक्रिय छात्र की मृत्यु (दलित छात्र की मौत का मामला) आज राजस्थान की सरहदं पार गया है। इस पर विचार करें बहुजन समाज पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व नीति (बसपा प्रमुख मायावती) ने अशोक गहलोत सरकार पर बड़ा आक्रमण किया है। पर्यावरण की देखभाल करने वाले नियंत्रकों को दुरुस्त करने के लिए लागू किया जाएगा।

सायला समाज के सुराणा गांव में खराब होने वाले व्यक्ति के खराब होने की स्थिति होती है। … इस प्रकार पर्यावरण को बेहतर बना सकते हैं।”

एक के बाद एक बार फिर से दर्ज किया गया
सामाजिक रूप से लागू होने के कारण, ”राजस्थान केजेल के सुराणा में के लिए स्कूल के बच्चे के लिए क्लास के लिए क्लास की पार्टी ने वोट के लिए वोटर के नेता के रूप में वोट किया। एचआईवी संक्रमण की मृत्यु हो सकती है। इस संचार और भरत्सना की वह कम है।”

शिक्षक के विपरीत घातक का मामला दर्ज करें
उल्लेखनीय है कि सुराणा गांव के एक निजी स्कूल में एक अध्यापक ने नौ वर्षीय दलित बच्चे इंद्र कुमार मेघवाल को कथित तौर पर मटकी छूने के कारण बेरहमी से पीटा था. यह घटनाक्रम 20 नवंबर है. बाद में परीक्षार्थी. 25 दिनों के बाद ब्रेकअप हुआ। इस स्थिति में स्थिर रहने वाले शिक्षक को स्थिर करें (40) इस स्थिति में है. बैट मर्डर और संरचना का संरचना में संशोधन किया गया है।

टैग: अशोक गहलोत सरकार, बसपा प्रमुख मायावती, अपराध समाचार, जयपुर समाचार, लखनऊ समाचार, राजनीतिक समाचार, राजस्थान समाचार



Source link

By RSS

Leave a Reply

Your email address will not be published.