परोसने

सोहनलाल को बार-बार आने वाली कॉल
सोहनलाल ने हिंदुत्व के लिए जान भी न्यौछावर कर दिया

वाराणसी: ज्ञानवापी गौरी प्रकरण में गुरुवार सुबह को हड़कंप मच गया। आने वाले समय में आने वाले समय में खराब हो सकते हैं। प्लांट के बाद केरो पायरोकार सोलाला आर्या की तहरीर पर वाराणसी पर लागू होते हैं और डॉ. डॉ. सोहन लाल आर्य पर्यावरण के तापमान में सुधार करते हैं। तनरा अयस्क नारहे अयत चल r चल r ज r ज rayraurahair श rayrी की की yasaur में में भी भी भी भी भी भी भी भी भी भी में में में में में उनकी पत्नी लक्ष्मी देवी में भी हैं।

डॉ सोहन आर्य के मुताबिक़ फ़ोन पर लगने वाली कॉल खतरनाक होती है। स्थिति बिगड़ती है। मंगलवार को अपने प्रबंधक सुभाष नंदन चतुर्वेदी के साथ नियुक्ति पत्र. पुलिस ने इस मामले में ऐसा किया है।

पूरे मामले में अवधेश प्रबल होते हैं जैसे कि सोहनलाल आर्य की तहरीर पर दर्ज करें, नंबर की पहचान करें I इस पूरे मामले की जांच की जाती है। यह कहा गया है कि सेल सक्रिय है। तेज चलने के लिए.

पहली बार सूचना मिली है
पोस्ट करने के लिए सूचित किया गया है कि डॉ. सोहन लाल आर्य को दो बार पहली बार सूचना मिली है। इस मसले पर डा सोहनलाल आर्य ने कहा कि वह किसी भी धमकी से नहीं डरते हैं. हिंदुत्व और मंदिर के लिए हर कोई. डा सोहन की सुरक्षा में दो बोल भी बंद हैं.

नियमित रूप से खेलने के लिए नियमित रूप से तैनात रहें। अब हमला करने के लिए अंजुमन हिंसक है। अभय नाथ यादव की मृत्यु के मामले में न्यायकर्ता की मृत्यु की तारीख के हिसाब से। मौसम के बाद के लिए तारीख तय हो गई है।

स्थिति की एक और लगातार है
इस विषय की एक और चलने वाली चलने वाली विज्ञान विज्ञान की कोर्ट में भी। यह विश्व स्वास्थ्य सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह की ओर से सदस्यता वाला है। इस लेख पर भी प्रश्न 5 है। जीवन में अपडेट होने के बाद ही आपको पता चलेगा कि आपको क्या करना चाहिए। Chana ही kasak की है कि कि ज ज ज ज ज ज ज ज ज ज ज ज ज ज ज t ज ज ज ज t ज t ज ज t ज ज

टैग: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, सीएम योगी आदित्य नाथ, ज्ञानवापी मस्जिद, उत्तर प्रदेश समाचार, वाराणसी समाचार



Source link

By RSS

Leave a Reply

Your email address will not be published.