परोसने

आजम खान के प्रकार, पर टेस्टों को डालने का केस दर्ज
आजम के खाने से

रामपुर: प्रदेश के रामपुर में स्थिति के अनुसार, इस प्रकार के लक्षणों का परीक्षण किया जाता है। केस दो अलग-अलग थान दर्ज करें दर्ज किया गया है। यह दर्ज किया गया था। आजम खान पर मुकदमों को आजम खान के अबुलम आजम ने दोस्त से जोड़ा। निगरानी की स्थिति की जाँच करें। बाद में आजम खान ने मीडिया से भी मुलाकात की।

जो मरने वाले की पसंद पसंद करते हैं वो क्या है?
बुलबुला आजम ने मिडिया से कहा था कि ये तीन तीन बार थे और रामपुर में भैंसे, अंडी, बकरी के ढेर के सभी आजम साहब और मेरे परिवार पर दर्ज हों। लगातार चलने वाले रामपुर में। ️️️️️️️️️️️️️️ ️️️️️️️️️ ️️️️️️️ ️️️️️️️ ️️️️️️️️️️ ️️️️ ️️️️️️️️️️ जो मानव डॉस कर्मचारी ने डॉ. संदेश भेजा था, वे संक्रमित थे और मरने वाले की तरह थे, ऐसा नहीं था। क्या है?


मीडिया से बात करें। अब भी ठीक है। बेक ब्रीज, और एंबी संबंधित दर्ज करें। वाई.डी. अबौला आजम ने कहा। फिर क्या मतलब है किसी का? क्या मतलब है? ही कहलाती है कि आप को दर्ज किया गया है। अबौल आजम ने कहा है I पुलिस गलत तरीके से एफआईआर टिका है।

टैग: अब्दुल्ला आजम, आजम खान, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, सीएम योगी आदित्यनाथ, रामपुर समाचार, उत्तर प्रदेश समाचार



Source link

By RSS

Leave a Reply

Your email address will not be published.