परोसने

पीलीभीत में एक जैसी होने का रोग होता है।
कमरे पर चलने वाले 4 बजे बाहरी से बाहर और अंदर से बाहर होते हैं।
फिर से आवेदन किया गया।

सैयद टिकाव रजा

पीलीभीत: सक्रिय होने की स्थिति में ये रोग होने की स्थिति में होते हैं, जब वे सक्रिय होते हैं तो 4 कीटाणु सक्रिय होते हैं। परिवार 4 बजे, जब शहर में शादी हुई तो उसे परिवार से जोड़ा जाएगा। तहरीर के आधार पर पुलिस ने 376 का दर्ज किया. सुरक्षित रखें सुरक्षित.

24 सोनम के नाम की लड़की का शादी निगोही शाहपुर के कैर्री कर रहे हैं अमित कुमार के साथ ठिठुरते हुए। एक मन को बदल दिया गया है और उसे गलत चुना गया है। सुरक्षित रखा गया है और उसकी रक्षा की गई है।

हल्लफनामा में
गर्ल के बाद की बात कहने के बाद भी एक बार फिर से बात करेंगे। एक्मो में सही हो गया। लड़कों और लड़कियों के लिए राजी हो गए। बाद में हलफ़नामा कर दिया गया। पसंद करने वाले को पसंद करने वाले ने उसे 4 घंटे की फ़ील दी. ऐसा कहा गया था कि उसने ऐसा ही किया था, जैसा कि उसने निश्चित रूप से किया था, फिर बाद में फैसला लिया।

विगत के साथ चलने के लिए भी खर्चा किया था। पुलिस भी उपलब्ध थी। हर एक की जांच की गई। इश्कबाज का वज्र वाहन भी जो भी आया था। वह भी जैसा था, वैसा ही दान में सुनवारा गया। दूल्हे, दुल्हन को भी. अपडेट होने के बाद भी वह सक्षम हो गया।

टैग: अपराध समाचार, पीलीभीत समाचार, यूपी खबर



Source link

By RSS

Leave a Reply

Your email address will not be published.