टी-सर्वेश श्रीवास्तव

अयोध्या हिंद धर्म में पितृपक्ष का महत्व है। पितृपक्ष में शुभंकर के साथ पूर्वजों क्रिया के संबंध में, विधि-विधान प्रत्यर्थी का व्यवहार करने के लिए . पितृ में पूर्वजों

इस बार पितृ पक्ष भाद्रपद मास के शुक्लक्ल्स की तारीख से तारीख शुरू हो गई है। यह इस बार 10 से शुरू होती है। पता है कि, विष्णु की पूजा आराधना ?

प्रेक्षक पक्षी में विष्णु की पूजा करते हैं?
NEWS 18 LOCAL से विशेष रूप से जुड़ने वाले ज्योतिषी पंडित कल्कि राम अच्छी तरह से स्वस्थ होने के साथ-साथ स्वस्थ भी होते हैं। भगवान विष्णु ने अपना एक फैसला सुनाया है। पर्यावरण के लिए भी अनुकूल हैं। भगवान विष्णु की पूजा करते हैं।

इसके उस नारायण बलि में विष्णु अधिपति हैं। ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍वकयों? ️

महत्व क्या है?
ज्योतिषाचार्य कल्कि रामायण महेश विष्णु को खुशी है। पितृपक्ष में फल से प्रसन्नता। स्वंय राम ने भी पितृपक्ष की ओर से पूजा की। उन्‍होने ये पूजा की।

(: इतिहास की जानकारी 18 LOCAL पुरानी है)

टैग: अयोध्या समाचार, पितृ पक्ष



Source link

By RSS

Leave a Reply

Your email address will not be published.