बहुत बड़ा झा

परा। उत्तर प्रदेश में करवा चौथ (करवा चौथ) के पर्व को निश्चित करना है। चैथ को सही होने के बाद भी यह काम करेगा। सुहागनी उम्र बढ़ने के लिए अपने सुहाग की उम्र के लिए, सजती-संवरती हैं। मौसम के अपडेट के लिए हमेशा मौसम अपडेट करें। इस व्रत से करवाचौथ का व्रत महिला ने किया था.

करवाचौथ का एक प्रमुख पर्व है। यह देश भर में जाने वाला पर्व है। करवाचौथ कार्तिक मास की अच्छी तरह से अच्छी तरह से अच्छी तरह से अनुकूल है। शुभ बार करवाथ के लिए शुभ बार करवाथ के लिए 13 अक्टूबर, 2022 सुबह 1:59 से 14 बजे: इस घड़ी चौथ के लिए सबसे उत्तम मुहूर्त की पूजा की सबसे उत्तम मुहूर्त 13 बजे: 09 बजे तक.

दिल्ली-एनसीआर में कैसा है?
अलग-अलग बार्थ पर देश के अलग-अलग-चौगुनी में चांद के दीदार का अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग होते हैं। दिल्ली-एन सुर की बात है दिल्ली में शाम 08:10 बजे, नगर में शाम 8:09 बजे और गुरुग्राम में शाम 08:11 बजे बजे दिखाई देगा।

भविष्य के किस मंत्र का जाप
कृष्ण चतुर्थी को व्यापिनी में यह व्रत है। इस रात का दिन. जूही शिव और माता पार्वती की देखभाल की व्यवस्था है. शाम शुभ शिव, माता पार्वती, समारोह में सुहाग की पवित्र तिथि। चं चंद्रमसे नमः, ओम नमः शिवाय केलाइन विशेष मंत्र ओम सायशन मुखाय विद्महे मयूर वाहनाय धीमहि तन्नो कार्तिकायत से पूजा देवता।

टैग: दिल्ली-एनसीआर समाचार, गाजियाबाद समाचार, करवाचौथ, विवाहित महिला, अप न्यूज हिंदी में



Source link

By RSS

Leave a Reply

Your email address will not be published.