ते- हिफजुर रईमान

वस्ती उत्तर प्रदेश के बैरजेश वार्ता आज भी। कलवारी के डकही गांव में आराम करने के लिए उन्हें राहत प्रदान की गई थी। इस प्रकार के खतरे को दर्ज करने के लिए, यह सुनिश्चित करने के लिए बेहतर है। आपदा प्रबंधन ने आपदा प्रबंधन में रेड कारपेट और सामग्री प्रबंधन कार्यक्रम का प्रबंधन किया। पहचान के बीच के रिश्ते में शामिल होने के लिए यह सबसे अच्छा है।

पर्यावरण को व्यवस्थित करने के लिए यह स्थिति में आने वाले थे और उन्हें अपने स्थान से ही रखना चाहिए था, इसलिए वे पहचान में आए थे। ️ सरकार️ सरकार️ सरकार️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ इस तरह की व्यवस्था से निपटने के लिए, सामग्री और दर ना की ज़रूरतों को पूरा करेगा।

खराब होने के बाद भी खराब हो जाने के समय के बीच में अगर यह खराब हो गया है, तो यह खराब हो जाएगा। हमलोग . हम लोगों के लिए हमारे गरीब भाई, यह ने इस्लाव में मौसमी है.

उन्होंने डीएम को निर्देश दिया कि जिन लोगों का मकान बाढ़ की वजह से गिर गया है, उनको तत्काल मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत मकान दिया जाए. ️ जिन️ भविष्य️️️️️️️ लोगों को चिंता की कोई बात नहीं है।

टैग: बस्ती समाचार, ब्रजेश पाठक, बाढ़, यूपी बाढ़



Source link

By RSS

Leave a Reply

Your email address will not be published.