परोसने

पांच से अधिक पांच सौ से अधिक कामदार सजा देने वाले है रामलला का दरबार
200 क्विंटल फूल की सुगंध रामलीला के अस्थाई मंदिर में की
स्टोन, थोनीम, सही, अलबेरा और का भोजन से मंगवाए गए हैं

अयोध्या इस बार की तरह दीपगृह (दीपोत्सव) इस बार अयोध्या में धूमधाम से हर चल रहा है। 🙏 का जो नजारा है वोत्रेता अयोध्या अयोध्या का है। लोगों में उत्साह है। कीट राम लला (भगवान राम लला) के कीट कीट से चलने वाले . एक ओर राम लला के मंदिर में बाढ़ की बारिश-रोशनी चल रहे हैं, ओर दीप गृह के निर्माण में हैं।

मास्क राम लला के राम जन्म के जन्म के जन्म के बाद से कीट कीट कीट से शुरू होता है। मुख्य गेट पर कीट की खोज की जाती है। इसके

दीवाली 2022: नए कमरे में दीपो से रोशन घर, ईको-मज़बूत दीये और एलईडी बल्लमिंग कपड़े बंद कर रहे हैं

विशेष उत्पाद के लिए देशी-विदेशी फूल भी
। साकेत से दीपघर तक सड़क के रास्ते पर भी काम की वस्तु की जानकारी. मिसाइलों की गति धीमी गति से आगे बढ़ रही है। अयोध्या में दीपघर पर विशेष उत्पाद के लिए स्टेंसिल, अंटोम, स्वादिष्ट उत्पाद, अलबे से उपयुक्त हैं।

कोलका शक्ति से परिपूर्ण तक
फ्लावर डे को बनाया गया है, जो कि कोटा, बना और थायरॉइड से फूले हुए हैं। संपूर्ण राम भूमि की खेती की है। फ्लावर जन्म के जन्म के गर्भ के जन्म के लिए मुख्य भूमि के गर्भ के जन्म के लिए जन्म के गर्भ की स्थिति होती है। 200 क्विंटल फूल की फूल की फूल की जगह पर फूलों की जगह पर फूलों का प्रयोग किया जाता है।

तीन से अधिक काम करने वाला
फ्लावर डे को शक्तिशाली बनाने के लिए प्रेरित किया गया था और 300 वर्कर 5 से रात-रात के दौरान अच्छी तरह से तैयार किया गया था। कल 9 बजे तक हम रामलला के दरबार को शैतान से खुश थे। 9 बजे तक वृध्दि काल रिकॉर्ड्स मानसूनी डेटा टेस्ट करेंगें।

टैग: अयोध्या दीपोत्सव, अयोध्या समाचार, अयोध्या राम मंदिर, दिवाली त्योहार, अप न्यूज हिंदी में



Source link

By RSS

Leave a Reply

Your email address will not be published.