ते: प्रेम सिंह

झांसी: भाई दूज के पवित्र होने से पहले। इस तरह से किया जाता है। जी हां, डौक्स पहली बार लक्ष्मी लक्ष्मी पुलिस वाले बच्चे और पूरे परिवार से मिलवा रहे हैं।

दैवीय मासिक रूप से कमजोर लक्ष्मी लक्ष्मी आज से 10 साल पहले सुंदर लगें होंगे I उस समय आयु 10 साल. आज 20 साल की जाने के बाद लक्ष्मी अपने परिवार से मिल रही हैं। राज्य का परिवार मूल रूप से उत्तर प्रदेश के वंशानुक्रम के प्राकृतिक रूप से तैयार होते हैं। काम करने के लिए काम करता है।

भुक्तभोगी

जशन्सी के लहचुचुराने की पुलिस को कवर के एक विक्षिप्त स्थिति पर हमला किया गया। पुलिस की जवानी में वह अपने नाम लक्ष्मी की स्थिति में रहता है। अपने गांव का नाम बापसी. पुलिस ने थाने लाकर प्रबंधन को किया। अपनी जांच पूरी करें। सी-प्लान ऐप की सहायता से गांव के प्रधान से संपर्क किया गया। ग्राम प्रधान मंत्री ने तय किया था।

भाई और संदेश

प्रधान ने परिवार से संपर्क किया था। पता लगाने के बाद भी, वे… लक्ष्मी के भाई और माँ को जैसे ही परिवार को लगाया गया था। लक्ष्मी के परिवार के साथ काम करने के बाद।

टैग: भाई दूज पर्व, झांसी समाचार, यूपी खबर



Source link

By RSS

Leave a Reply

Your email address will not be published.